दिल की धड़कन शायरी


दिल की धड़कन और मेरी सदा है तू,
मेरी पहली और आखिरी वफ़ा है तू,
चाहा है तुझे चाहत से भी बढ़ कर,
मेरी चाहत और चाहत की इंतिहा है तू।

Advertisement

अपना बनाकर हमें अपनी आग़ोश में भर लो,
होंगे नहीं कभी जुदा हम आज ये वादा कर लो,
बिखर जाएंगे तुमसे अगर जो दूर हो गए,
कल हो सके न हो सके आज चंद बातें कर लो


वो करते हैं शिकायत हमसे
कि हम हर किसी को देखकर मुस्कुराते हैं,
शायद उन्हें नहीं पता कि
हमें हर मुखड़े में सिर्फ वो ही नज़र आते हैं।

दिल की धड़कन शायरी

उदास लम्हों की न कोई याद रखना,
तूफान में भी वजूद अपना संभाल रखना,
किसी की ज़िंदगी की ख़ुशी हो तुम,
बस यही सोच तुम अपना ख्याल रखना।

यकीन नहीं तुझे अगर तो आज़मा के देख ले,
एक बार तू जरा मुस्कुरा के देख ले,
जो ना सोचा होगा तूने वो मिलेगा तुझको भी,
एक बार अपने कदम बढ़ा के देख ले।


gam bhari shayari likhi hui

Read our latest poetry on your Facebook every day

Advertisement