“बढ़ती उम्र का इश्क
ढलती उम्र की ख्वाईश ।

खूबसूरत जिस्म नही
खूबसूरत साथ ढूंढता है ।”

Hindi Shayari

Advertisement